यदि आप भी हल्दी के इन औषधीय गुणों का लाभ पाना चाहते हैं एवं निरोग रहना चाहते हैं तो इसके कुछ बेमिसाल उपाय हम आपको आज बता रहे हैं :
  • कई शोध के मुताबिक हल्दी का सेवन करने से ज्यादा पित्त बनता है जिसकी वजह से हमें भोजन पचाने में सहायता होती है।
  • हल्दी एंटीऑक्सीडेंट उत्पन्न करने में सबसे कारगर है और इसका नियमित सेवन करने से कैंसर जैसी गंभीर रोगों को पैदा करने वाली कोशिकाओं को ख़तम करने में हल्दी काफी कारगर हैं।

  • हल्दी को अच्छा एंटीसेप्टिक भी माना जाता है यह हमें विभिन्न संक्रमणों से लड़ने में सहायता प्रदान करती हैं चाहे वह बाहरी हो या अंदरूनी हर तरह के घावों को भरने के लिए हल्दी बहुत अच्छी औषधि मानी जाती है और शायद यही वजह है कि भारतीय परिवारों में हल्दी को अधिक से अधिक उपयोग किया जाता है।
  • सुबह सुबह गुनगुने पानी और एक चम्मच हल्दी को मिलाकर खाली पेट पीने से छाती की जलन में आराम होता है एवं यदि भोजन अपच होने से जलन महसूस होती है तो इससे भी काफी फायदा पहुंचता है।

  • जिन लोगों को एसिडिटी, कब्ज या जलन की शिकायत रहती है उन्हें रोजाना गर्म पानी में एक चम्मच हल्दी घोलकर पीने से सप्ताह भर में काफी आराम मिल जाता है।
  • हल्दी में कर्कमिन नामक एक तत्व प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो हमें मानसिक बीमारियों को बचाने के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है और यदि इसका सेवन सुबह किया जाए तो यह हमारे मस्तिष्क को तरोताजा कर देता है इससे हमारे मस्तिष्क की स्मरण शक्ति और भी बढ़ जाती है।

यह लेख जानकारी हेतु लिखा गया है इन सुझावों को अपनाने के पूर्व किसी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।